TikTok Likee Helo App Ben – देश में डेटा सुरक्षा और निजता के नाम पर भारत सरकार ने सोमवार को एक बड़ा फैसला लिया है। यह निर्णय देश में इंटरनेट, सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों सहित कई अन्य मोबाइल ऐप के उपयोगकर्ताओं के लिए बहुत कुछ बदल देगा। यह कदम देश में विकसित मोबाइल ऐप को बढ़ावा देने की दिशा में भी एक बड़ा कदम साबित होगा। वास्तव में, सरकार ने सोमवार को एक बड़ी घोषणा की कि उसने Android और IOS पर कुल 59 चीनी मोबाइल एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिसमें आईटी अधिनियम, 2000 की धारा 69 (ए) के तहत लोकप्रिय वीडियो सामग्री प्लेटफॉर्म टिक्कॉक शामिल है। सूची, TikTok के अलावा, विगो वीडियो, शेयरिट, यूसी ब्राउज़र, Helo App और लाइक जैसे कई ऐप हैं जिनके भारत में बड़ी संख्या में उपयोगकर्ता हैं।

TikTok Likee Helo App Ben

TikTok Likee Helo App Ben

ऐसे में ये सवाल इन यूजर्स के सामने खड़ा है कि वो अपने ऐप और अपने डेटा का क्या करें। विशेष रूप से, जो उपयोगकर्ता इन प्लेटफार्मों पर सामग्री बनाते हैं, जैसे #TikTokers। यहां तक ​​कि TikTok को Apple के ऐप स्टोर से हटा दिया गया है।

ऐसे में इन यूजर्स को ये पता होना चाहिए कि इन ऐप्स का अपने फोन में क्या करना है और अपने डेटा को कैसे सेव करना है। ध्यान दें कि नोटबंदी के बाद अब ये ऐप आपके फोन से गायब नहीं होंगे। हां, इसमें ऐप के सर्वर से कोई कनेक्शन नहीं होगा। तो साइबर विशेषज्ञों की राय क्या है?

TikTok Mobile App Ben

साइबर विशेषज्ञ वकील प्रशांत माली ने कुछ टिप्स दिए हैं, जिन्हें आप अब अपना सकते हैं-

इन ऐप्स को अपने फ़ोन से हटाने के बजाय, फ़ैक्टरी आपके फ़ोन को रीसेट कर देती है।

-इससे पहले अपने डेटा का बैकअप अवश्य लें।

-ये ऐप अभी भी आपके फोन में काम करते हैं, लेकिन वे हैकर्स के लिए अधिक असुरक्षित होंगे क्योंकि ये ऐप अपडेट नहीं होंगे। ऐसे में हैकर्स आपके फोन को कंट्रोल कर सकते हैं।

Helo App Ben

  • टिकटॉक पर कंटेंट बनाने वाले यूजर्स इन वीडियो से लोगो को हटाकर लोगो रिमूवल ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं और अपनी सारी सामग्री भारत में बने ऐप पर अपलोड कर सकते हैं।

आपको बता दें कि सोमवार को आईटी मंत्रालय ने एक बयान जारी कर इन 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था। आप पूरी सूची यहां देख सकते हैं। मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि उसे कई स्रोतों से कई शिकायतें मिली हैं, जिनमें एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर कुछ मोबाइल ऐप का दुरुपयोग भी शामिल है। इन रिपोर्टों में कहा गया है कि ये ऐप उपयोगकर्ताओं का डेटा चुराते हैं और उन्हें बिना अनुमति और अवैध रूप से भारत के बाहर एक सर्वर पर भेजते हैं।

अन्य जानकारी यहाँ देखे – क्लिक करे

Leave a Reply